Independence Day

72th India Independence Day (15 August) Speech In Hindi, English, Tamil, Telugu, Marathi For Teachers, Students, Kids

स्वतंत्रता दिवस पर हिंदी में निबंध – 15 अगस्त पर लेख

स्वतंत्रता दिवस पर निबंध हिंदी में

स्वतंत्रता दिवस पर निबंध हिंदी में लिखना बहुत ही बड़ी बात है, क्योंकि भारत एक हिंदी प्रधान देश है और यहां के 80% आबादी हिंदी बोलते हैं। हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा भी है इसलिए हिंदी में निबंध हम सभी लोगों के लिए महत्वपूर्ण और गर्व से भरा है अलग-अलग स्कूल कॉलेजों में स्वतंत्रता दिवस पर निबंध  लिखवाया जाते हैं जिन्हें बच्चे बहुत प्यार से लिखते हैं, और अपनी सारी बातें जो भी वह स्वतंत्रता दिवस के बारे में जानते हैं सब इस निबंध के जरिए अपने विचार लिखते हैं। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर हमें ढेर सारी प्रेरणा की जरूरत है। हम सभी भारतवासी को अपने देश के प्रति ईमानदार होना होगा तभी हम लोग अपने देश को आगे बढ़ा सकेंगे।

15 अगस्त भारतवर्ष का राष्ट्रीय त्योहार है। सन् 1947 में इसी दिन भारत को विदेशी दासता से मुक्ति मिली थी और भारत स्वतंत्र हुआ था।
कृपया इसे भी पढ़ें:- 15 अगस्त पर कविता

15 August Independence Day Essay In Hindi

Essay on 15 august swatantrata divas in hindi यह त्योहार सारे भारतवासियों द्वार मिलकर हर्ष उल्लास से मनाया जाता है। भारतवासी स्वतंत्रता का मूल्य समझते हैं। अंग्रेज भारत में व्यापारी बनकर आये और इस देश के शासक बन बैठे। उनकी ‘फूट डालो और राज करो’ की नीति सफल हुई। अंग्रेजों के बढ़ते अत्याचारों के साथ भारत के देशभक्तों में स्वाधीनता प्राप्ति की भावना बढ़ती गयी। भारत की स्वतंत्रता की लड़ाई का इतिहास बहुत लम्बा है। हजारों वीर और वीरांगनाओं के त्याग और बलिदान के पश्चात हमें स्वतंत्रता मिली। झांसी की रानी लक्ष्मीबाई, महाराणा प्रताप, शिवाजी, लाला लाजपत राय, बालगंगाधर तिलक, भगत सिंह, चन्द्रशेखर आजाद, नेहरू जी, सुभाष चन्द्र बोस, महात्मा गांधी जैसे हजारों शहीदों और स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान की कहानियों से पुस्तकें भरी पड़ी हैं। जिस दिन अंग्रेज भारत छोड़कर गये उस दिन 15 अगस्त था। अतः हर वर्ष इस दिन को उन शहीदों की स्मृति में स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है।

Here Are Some Best 15 अगस्त मैसेज :- Independence Day SMS in Hindi

भारत को आधी रात को आजादी क्यों दी गई थी।

इस लेख में हम बताएंगे कि भारत के स्वतंत्र होने की घोषणा आधी रात के दौरान क्यों की गई थी। जब 1947 में भारत के आखिरी वायसराय लॉर्ड माउंटबेटन को अपॉइंट किया गया था तो उनका एक ही मकसद था ट्रांसफर ऑफ़ पॉवर फ्रॉम ब्रिटिश रूल टू इंडियन गवर्नमेंट। जब पहली मीटिंग के दौरान डिसाइड हुआ ki ट्रांसफर ऑफ़ पॉवर जून 1948 में की जाएगी तो इसके चलते भारत में दंगे बढ़ चुके थे। एक नई स्वतंत्र राष्ट्र बनाने का सपना मुसलमानों के मन में था, जिसका नाम था पाकिस्तान। यह सब देखते हुए माउंटबेटन transfer of power की डेट 30 जून 8 से 15 अगस्त घोषित कर दी और 15 अगस्त माउंटबेटन के लिए एक लकी तारीख थी क्योंकि 1945 में 15 अगस्त को ही जापान वर्ल्ड वॉर 2 के दौरान इलाइट फोर्सेस को सरेंडर किया था। और माउंटबेटन उस वक्त इलाइट फोर्सेस के कमांडर थे। जैसे ही अनाउंस किया गया कि भारत 15 अगस्त को आजाद कर दिया जाएगा तो एस्ट्रोलॉजर ने इसका विरोध किया क्योंकि उनका मानना था कि 15 अगस्त की तारीख बहुत ही अशुभ है पूरे देश के लिए। पर माउंटबेटन अपनी बात पर अड़े रहे और डेट चेंज करने का प्रस्ताव नहीं माना फिर एक आखरी रास्ता ही बचा था कि भारत अपनी आजादी की घोषणा 14 तारीख की रात को 12:00 बजे करें क्योंकि उस वक्त इंग्लिश कैलेंडर के मुताबिक 15 अगस्त शुरू हो जाएगा पर वैदिक कैलेंडर के मुताबिक सूर्योदय तक तारीख 14 अगस्त ही रहेगी। यह विकल्प दोनों देशों को मंजूर हुआ और यही कारण है कि भारत की आजादी की घोषणा रात 12:00 बजे की गई थी।

स्वतंत्रता दिवस पर लेख

❤👫♛

Kuchh nasha Tirange ki aaan ka hain,
Kuch nasha Matrbhumi ki shaan ka hai
Hum lahrayenge har jagah ye Tiranga
Nasha ye Hindustan ki shaan ka hain..!!

Jai Bharat

❤👫♛

मुकम्मल है इबादत और मैं वतन ईमान रखता हूँ,
वतन के शान की खातिर हथेली पे जान रखता हूँ !!
क्यु पढ़ते हो मेरी आँखों में नक्शा पाकिस्तान का ,
मुस्लमान हूँ मैं सच्चा, दिल में हिंदुस्तान रखता हूँ !!

हिंदुस्तान ज़िंदाबाद, जय हिन्द, जय भारत

❤👫♛

Aao desh ka samman karein…
Shahido ki shahadat yaad kare
Ek baar phir se rashtra ki kamaan,
Hum hindustani apne haath dhare,
Aao Swatantrata diwas ka maan kare
Swatantrata Diwas Ki Shubhkamnaye

❤👫♛

Halki si dhoop barsat ke baad,
thori si khushi her baat ke baad,
Isi tarah mubarak ho aap ko,
Jashan-e-azadi 1 din k baad….
Wish U a very happy independence day

❤👫♛

अगर आप छोटे बच्चों का स्वतंत्रता दिवस पर लेख पढ़ेंगे या सुनेंगे तो आपको बहुत ही हैरानी होगी कि वह किन-किन बातों पर उस निबंध में जोड़ देते हैं हमारे भारत वर्ग के बच्चों का भविष्य बहुत ही सुंदर है और उन्हें अपने देश के आजादी की बातें बहुत ही अच्छे से पता है 15 अगस्त का लेख हम सभी के लिए महत्वपूर्ण है मैं अपने बच्चों को स्वतंत्रता दिवस पर लेख लिखने के लिए उत्तेजित करना चाहिए ताकि वह एक बहुत ही सुंदर 15 अगस्त पर लेख लिखकर हमें दिखाएं बहुत बड़े बड़े नेता मैं भी स्वतंत्रता दिवस पर लेख लिखते हैं और उन्हें रेडियो या टेलीविजन के माध्यम से प्रस्तुत किया जाता है, जिन्हें सुनकर हमें बहुत गर्व महसूस होता है स्वतंत्रता दिवस पर निबंध हिंदी में भी लिखा जाता है और अलग-अलग भाषाओं जैसे की इंग्लिश, तमिल, भोजपुरी, पंजाबी, मराठी और न जाने कितने और भाषाएं भारत में है उन सभी पर स्वतंत्रता दिवस के दिन लेख लिखा जाता है, जिन्हें बाद में मंच पर प्रस्तुत भी किया जाता है

स्वतंत्रता दिवस पर हम लोग आपको बहुत ही बढ़िया लेख देने वाले हैं जिसे आप कहीं भी इस्तेमाल कर सकते हैं स्कूल या कॉलेज में। इसलिए को सुनकर आपके शिक्षक और सभी सहपाठी बहुत ही खुश हो जाएंगे और आपको इस निबंध के लिए धन्यवाद भी देंगे। कृपया इसलिए को 3-4 पढ़ लो उसके बाद आप लेख को दोबारा अपने शब्दों में लिखें लेख लिखते वक्त जरुरी नहीं है कि आपके सारे शब्द सही हो जाएं। स्वतंत्रता दिवस एक बहुत ही बड़ा त्यौहार और जाहिर सी बात है कि इस बड़े से त्योहार के बारे में आपको सब कुछ नहीं पता होगा पर आपको जितना भी बातें पता है उनको लेख में लिख सकते हैं कुछ गलती किए हुए।

अलग-अलग स्कूल और कॉलेजों में स्वतंत्रता दिवस पर लेख लिखने का विभिन्न मकसद होता है कई जगह तो स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर निबंध की कंपटीशन करवाई जाती है, जिनके माध्यम से शिक्षक सबसे अच्छी निबंध को चुनते हैं और जिसने भी यह निबंध लिखा हो उसे पुरस्कार देते हैं बच्चे भी इस अवसर का खूब लाभ उठाते हैं और अच्छी से अच्छी कविता लेख एवं निबंध लिखकर अपने टीचर को देते हैं स्वतंत्रता दिवस पर लेख लिखना बहुत ही अच्छी बात है इससे आप देश के बारे में और अधिक जान पाते हैं और भारत की आजादी को एक बार फिर से कागज और कलम के जरिए प्रस्तुत करने का मौका मिलता है हमें उन सभी देशभक्तों और शहीदों का सम्मान और आदर करना चाहिए जो हमारे देश के लिए मर मिटे हमें कभी भी यह नहीं भूलना चाहिए कि हमारी स्वतंत्रता बहुत ही मुश्किल से मिली और हम सभी को इस स्वतंत्रता दिवस पर गर्व होना चाहिए भारत का यह 71 स्वतंत्रता दिवस है इसके पहले और भी कई स्वतंत्रता दिवस आए और गए पर हम सभी को 71 स्वतंत्रता दिवस का हार्दिक स्वागत करना चाहिए और इस दिन का भरपूर उपयोग करना चाहिए
15 अगस्त पर लेख लिखने के लिए सब को आमंत्रित हैं और वह सभी जो यह लेख नहीं लिख सकते कृपया इन्हें पढ़कर और दूसरों को सुनाकर अपने आप को देश के प्रति सम्मान देने का अवसर प्राप्त करें।

If You Like This Article Plzz Share it on Facebook, Whatsapp, twitter or Google+




Updated: August 12, 2018 — 10:18 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Independence Day © 2018